अंजीर खाने के फायदे और नुकसान(Anjir khane ke fayde aur nuksan)

अंजीर खाने के फायदे और नुकसान (anjir khane ke fayde aur nuksan)-

अंजीर मे मौजूद पोषक तत्व- अंजीर स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है। अंजीर में जिंक,मैंगनीज,मैग्नीशियम,आयरन जैसे खनिज पाए जाते हैं। अंजीर में एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर भी भरपूर मात्रा में पाई जाती है।

रोज भीगे अंजीर खाने से सेहत को मिलते ये फायदे – जानें इसे कब और कैसे खाना चाहिए |अंजीर हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होते हैं। इसे भिगोकर खाने से कई तरह की बीमारियां ठीक हो सकती है।

कैसे लें अंजीर का फायदा (How To Use Figs)-
हां, आप अंजीर का सेवन बिना भिगोए भी कर सकते हैं लेकिन पानी में भिगोकर अंजीर को खाने से आपका स्वास्थ्य बेहतर होता है। आइए जानते हैं कैसे अंजीर का लाभ आप आसानी से उठा सकते हैंः 1- 2 से 4 सूखे अंजीर लें। 2-आधा कटोरा पानी में अंजीर डालकर उन्हें रात भर भिगोने के लिए रख दें। 3-सुबह पानी को निकाल दें। 4-अब खाली पेट भिगोए हुए अंजीर को खाएं। आप चाहें तो इसमें शहद भी यूज कर सकते हैं।

इसे पानी में भिगोकर खाने के फायदे(anjir khane ke fayde)
figs health benefits :-
आपने कई बार अंजीर (figs) खाया होगा और जब इन्हें सूखा कर खाया जाता है तो इसका आकार चमड़े जैसा और खाने में मीठा होता है। खाने पर ये बहुत नरम और चबाने योग्य होता है, जिसमें न तो कोलेस्ट्रॉल होता है और न ही फैट। इसके अलावा अंजीर में शुगर की संतुलित मात्रा होती है साथ ही कार्बोहाइड्रेट और फाइबर के साथ-साथ नमक की बहुत कम मात्रा पाई जाती है। बता दें कि अंजीर के नियमित सेवन को खासतौर पर रात भर भिगोकर रखे गए अंजीर का सुबह खाली पेट सेवन आपको कई हेल्दी फायदे देने का काम करता है। आइए जानते हैं सूखे अंजीर को पानी में भिगोकर खाने के फायदे –

1.हड्डियों को बनाए मजबूत –
अंजीर में कैल्शियम, फॉस्फोरस,मैग्नीशियम,पोटेशियम आदि होते हैं। जो हड्डियों की तंदुरुस्ती के लिए बेहद लाभदायक होते हैं। ये सभी पोषक तत्व आपके हड्डियों को मजबूत बनाते हैं। हमारा शरीर खुद कैल्शियम प्रोड्यूस नहीं करता है इसलिए ये बेहद जरूरी है कि आप कैल्शियम से भरपूर चीजों का सेवन करें।

2.प्रजनन क्षमता बढ़ाता है –
जैसे कि हमने आपको पहले ही बताया कि अंजीर में जिंक,मैंगनीज,मैग्नीशियम और आयरन जैसे खनिजों का भंडार है। यह सभी तत्व प्रजनन स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर हार्मोन असंतुलन और पीरियड्स के दौरान होने वाली समस्याओं में भी काफी कारगर है। महिलाओं को कमजोरी में भी अंजीर खाने की सलाह दी जाती है।

3.दिल का रखें ख्याल
अंजीर में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट आपके ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल रखने में मदद करता है। इसके अलावा यह हृदय स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा होता है।अंजीर शरीर में ट्राइग्लिसराइड्स के स्तर को कम करने में मदद कर सकता है, जो हृदय संबंधी समस्याओं का प्रमुख कारण है।

4.शुगर के स्तर को कम करता है
अंजीर में उच्च मात्रा में पोटेशियम होता है। यह आपके शरीर में शुगर के स्तर को नियंत्रित रखता है। अंजीर में मौजूद क्लोरोजेनिक एसिड ब्लड शुगर लेवल कम करने में मदद कर सकता है। आप सलाद और स्मूदी में कटे हुए अंजीर का इस्तेमाल कर सकते हैं

5.वजन घटाने में मददगार
अंजीर में कॉपर,मैग्नीशियम,फॉस्फोरस,पोटेशियम आदि पोषक तत्व होते हैं। इन पोषक तत्वों की मदद से आपका मेटाबॉलिज्म बिल्कुल सही रहता है। इसके अलावा अंजीर में फाइबर की भरपूर मात्रा होती है।जो आपके पेट को लंबे समय तक भरा हुआ रखता है। अंजीर आपकी कैलोरी की मात्रा को भी नियंत्रित करता है। तो अगर अपना वजन कम करना चाहते हैं तो अंजीर को अपने आहार में जरूर शामिल करें

6.रक्तचाप को कम करता है –
अंजीर में मौजूद पोटेशियम एक महत्वपूर्ण खनिज है । इसके नियमित सेवन से ब्लड प्रशेर को संतुलित रखने में मदद मिलती है। साथ ही यह सोडियम के हानिकारक प्रभावों को भी कम करता है, जो रक्तचाप के लिए बेहद नुकसानदेह है। हालांकि आजकल प्रोसेड फूड बाजारों में ज्यादा मिलते हैं इसलिए ये बेहद जरूरी है कि हम पोटेशियम से भरपूर आहार लें।

7.स्टेमिना बढ़ाने में अंजीर के फायदे-. अंजीर में मौजूद आयरन (iron) और पोटैशियम शरीर स्टेमिना बढ़ाने में बढ़ाने में मददगार है। जो लोग दिन भर थके थके रहते हैं वह अपने दिन की शुरुआत भीगे हुए अंजीर से कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आपको सुबह दूध पीना पसंद है तो अंजीर को दूध में उबालकर सुबह-सुबह एक गिलास पीने से शरीर में ऊर्जा बनी रहेगी। जो लोग जिम करते हैं उनके लिए यह बहुत फायदेमंद है।

अंजीर खाने के नुकसान (Anjir khane ke nuksan)-

अंजीर को अपने आहार में शामिल करके अपने लिए संपूर्ण पोषक तत्व प्राप्त कर सकते हैं। यह न केवल खाने में स्वादिष्ट है बल्कि सेहत में भी दमदार है। अंजीर को आप कॉर्नफ्लेक्स और अन्य किसी भी मजेदार स्नैक्स के साथ ट्राई कर सकते हैं। आप अपनी सुविधानुसार इसे सूखा हुआ भी खा सकते हैं लेकिन अंजीर को लेकर कुछ सावधानियां भी बरतने की जरूरत है।

1.गुर्दे की पथरी (Kidney Stone)
अंजीर में ऑक्सलेट नामक तत्व होता है। ऐसे में अत्यधिक मात्रा में अंजीर फल या सूखे अंजीर खाने से गुर्दे में पथरी (Fig can cause Kidney stone) होने की संभावना बढ़ जाती है।

2.कैविटी (Cavity)-
जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि अंजीर में शुगर की मात्रा अधिक होती है और यह शुगर कार्बोहाइड्रेट के रूप में मौजूद होती है। ऐसे में अंजीर अधिक खाने से दांत सड़ सकते हैं। उनमें कैविटीज लग सकती है।

3.माइग्रेन अटैक (Migraine Attack)-
जिन लोगों को माइग्रेन की समस्या है, उन्हें भी अंजीर का सेवन प्रतिदिन करने से बचना चाहिए, इससे माइग्रेन आ सकता है। ड्राई फिग (Dry figs) सूखे अंजीर में अत्यधिक मात्रा में सल्फाइट होता है और सल्फाइट का अधिक सेवन माइग्रेन अटैक बढ़ा देता है।

4.दस्त
गर्मी के मौसम में अंजीर खासकर सूखे अंजीर के अधिक सेवन से डायरिया हो सकता है। बच्चों को इसे अधिक मात्रा में ना खिलाएं। इसमें फाइबर भी अधिक होता है, जो मल को लूज करता है। ऐसे में अंजीर एक ही बार में अधिक खा लेने से डायरिया हो जाता है। पेट फूल सकता है।

5.हाई ब्लड शुगर (High Blood Sugar)-
अंजीर के अधिक सेवन से शरीर में ब्लड शुगर का लेवल बढ़ सकता है। जिन लोगों को डायबिटीज की समस्या है, उन्हें अंजीर का सेवन डॉक्टर से पूछकर ही करना चाहिए। दरअसल, अंजीर या फिग फल में शुगर की मात्रा अधिक होती है, जो रक्त में ग्लूकोज के स्तर को बढ़ाने का काम करता है। यदि आप प्री-डायबिटीक से ग्रस्त हैं, तो अंजीर खाने से डायबिटीज होने का खतरा बढ़ जाता है।

NOTE– ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि अंजीर के सेवन से शरीर को क्या फायदे हो सकते हैं। लेकिन इसकी अधिकता सेहत के लिए नुकसानदेह भी हो सकती है। ऐसे में सबसे पहले अंजीर की सीमित मात्रा का ज्ञान होना जरूरी है। उसके बाद ही व्यक्ति अंजीर को अपनी डाइट में जोड़ें। यदि आप कोई स्पेशल डाइट फॉलो कर रहे हैं या किसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त हैं तो अपनी डाइट में अंजीर को जोड़ने से पहले एक बार एक्सपर्ट की सलाह जरूरी लें।

Leave a Comment